इंडेन गैस एजेंसी के स्वामी व जिला पूर्ति अधिकारी लगा रहे जनता को चुना

Spread the knowledge and Information

 

गैस एजेंसियों पर और अधिकारियों पर जनता का 200 करोड़ रुपए का घोटाला सामने आया है, जिसकी शिकायत पेट्रोलियम मंत्री प्रधानमंत्री व अन्य अधिकारियों सहित सभी को बीते दिनों की गई थी जिसमें पुलिस अधीक्षक ने गैस एजेंसियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करने के आदेश भी दिए थे किंतु अभी तक किन कारण से रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई। यह तो अधिकारी ही बता सकते हैं किंतु पुलिस अधीक्षक ने थानों को आदेश किया था कि वह गैस एजेंसी स्वामियों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर कार्यवाही करें। हाल ही में पेट्रोलियम सेल्स मैनेजर के द्वारा फर्जी जांच करने का मामला सामने आया है। उन्होंने अपने एक पत्र में कहा है कि जो आरोप लगाए गए हैं वह निराधार हैं उन्होंने यह नहीं बताया कि उन्होंने किस की जांच करा दी। जबकि आज भी जनता को लूटने का सिलसिला जारी है।
गैस एजेंसी स्वामी ने जनता से लगभग 200 करोड़ से भी अधिक रुपए लूट रखे हैं। यह विषय जांच का नहीं है किसी प्रमाण की भी आवश्यकता नहीं है जनता कई बार जिलाधिकारी पेट्रोलियम अधिकारी मंत्रियों से शिकायत कर चुकी है और लगातार करती चली आ रही है कि उनसे 30 से ₹50 ऊगाई एजेंसी स्वामी लगातार कर रहे हैं और अधिकारी उन्हें बढ़ावा देने का काम कर रहे हैं झूठी रिपोर्ट पेश कर रहे हैं जिसमें वह फंसते नजर आ रहे हैं। हाल ही में इंडियन ऑयल के एक अधिकारी ने लिखित तौर पर अपने पत्र में कहा है कि उन्होंने जांच कराई थी। जांच किससे कराई थी कब कराई थी किसकी कराई थी दिनांक क्या था गैस का कनेक्शन नंबर क्या था किस उपभोक्ता का नाम आदि उन्होंने उस पत्र में नहीं दिए जिससे पता चलता है कि अधिकारी ही अब जनता को लूटने का काम कर रहे हैं। यह अधिकारी इतनी भ्रष्टाचारी हैं कि इन्होंने पहले भी आर0टी0आई0 में मांगी गई सूचनाएं उपलब्ध नहीं कराई थी और गैस एजेंसियों से लगातार हमारी शिकायत के आधार पर करोड़ों रुपए की जांच के नाम पर उगाई की है। हाल ही में समस्त अधिकारियों और मंत्रियों को इस संबंध में भी अवगत कराया गया है कि ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दें और इनके खिलाफ मुकदमा दर्ज कर इनकी संपत्ति की जांच भी अवश्य कराएं। जिससे भोली-भाली जनता को न्याय मिल सके और जो 200 करोड़ों रुपया जनता का इन पर है वह तुरंत वापस दिलाया जाए ऐसी कई लोगों ने मांग की है।


Spread the knowledge and Information

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *