ऋषभ पंत संभालें टेस्ट कप्तानी की जिम्मेदारी

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest
ऋषभ पंत संभालें टेस्ट कप्तानी की जिम्मेदारी

नई दिल्ली। महान खिलाड़ी सुनील गावस्कर चाहते हैं कि ऋषभ पंत भारत के अगले टेस्ट कप्तान के तौर पर विराट कोहली की जगह लें क्योंकि उनका मानना है कि जिम्मेदारी का भाव इस विकेटकीपर को खेल के सभी प्रारूपों में बेहतर क्रिकेटर बनाएगा। कोहली ने भारतीय टीम की टेस्ट कप्तानी छोड़कर क्रिकेट जगत को हैरान कर दिया। गावस्कर ने कहा कि वह पंत को तरजीह देंगे क्योंकि चयनकर्ताओं के लिए खेल के सभी प्रारूपों में वह पहली पसंद होगा। गावस्कर ने कहा, जहां तक चयन समिति का संबंध है तो भारतीय क्रिकेट को कौन आगे ले जाएगा, इसे लेकर काफी बहस होने वाली है। पहली बात तो, वह ऐसा खिलाड़ी होना चाहिए जिसका चयन खेल के सभी प्रारूपों के लिए स्वत: ही होना चाहिए। एक बार ऐसा होता है तो यह काफी आसान हो जाएगा। उन्होंने कहा, अगर आप मुझे पूछोगे तो मैं फिर भी यही कहूंगा कि मैं ऋषभ पंत को अगले भारतीय कप्तान के तौर पर देखना चाहूंगा। गावस्कर ने कहा, सिर्फ एक कारण से, जैसे रोहित शर्मा को रिकी पोंटिंग के पद से हटने के बाद मुंबई इंडियंस की कप्तानी दी गई, तो देखिए इसके बाद उसकी (रोहित) बल्लेबाजी में कितना बदलाव हुआ। अचानक से कप्तान की जिम्मेदारी से उसने 30, 40 और 50 रन की खूबसूरत पारियों को शतक, 150 रन और 200 रन में बदल दिया।
गावस्कर ने कहा, मुझे लगता है कि यह जिम्मेदारी का भाव ऋषभ पंत को न्यूलैंड्स में बनाए गए शानदार शतक जैसी पारियां खेलने में मदद करेगा। गावस्कर ने इस पर अपना तर्क बताते हुए मंसूर अली खान पटौदी का उदाहरण दिया जिन्होंने छोटी उम्र में कप्तानी की जिम्मेदारी संभालने के बाद अपार सफलता हासिल की।
उन्होंने कहा, हां, मैं ऐसा कह रहा हूं। टाइगर पटौदी 21 साल की उम्र में विपरीत परिस्थितियों में कप्तान बने थे तब नारी कांट्रेक्टर चोटिल हो गए थे। देखिए उन्होंने इसके बाद क्या किया। उन्होंने कप्तान बनने के बाद सफलता हासिल की। गावस्कर ने कहा, मुझे लगता है कि हमने आईपीएल में दिल्ली कैपिटल्स के कप्तान के तौर पर भी ऋषभ पंत में ऐसा ही देखा, मेरा मानना है कि उसमें भारतीय क्रिकेट को आगे ले जाने और इसे देखने के लिए रोमांचक टीम बनाने की काबिलियत है।

Rashifal

%d bloggers like this: