टीकाकरण अभियान की पहली वर्षगांठ पर स्वास्थ्य मंत्री ने विशेष डाक टिकट जारी किया

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest
टीकाकरण अभियान की पहली वर्षगांठ पर स्वास्थ्य मंत्री ने विशेष डाक टिकट जारी किया

टीकाकरण की पहल वर्षगांठ
नई दिल्ली। देश में कोविड-19 टीकाकरण अभियान के एक वर्ष पूरा होने के अवसर पर 16 जनवरी को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने स्वदेश निर्मित टीके कोवैक्सीन पर आधारित डाक टिकट जारी किया। साथ ही कहा कि देश की 70 फीसद वयस्क आबादी को टीके की दोनों खुराक जबकि 93 फीसद को पहली खुराक दी जा चुकी है। विशेष डाक टिकट जारी करने के लिए आयोजित कार्यक्रम को ऑनलाइन संबोधित करते हुए मांडविया ने कहा कि यह भारतीयों के लिए गर्व का पल है और पूरा विश्व भारत के कोविड-रोधी टीकाकरण अभियान की उपलब्धि से अंचभित है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों ने टीकाकरण अभियान को लेकर संशय जाहिर किया था, हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दृढ़ निश्चई थे और उन्होंने वैज्ञानिकों और कंपनियों का उत्साहवर्धन जारी रखा। मांडविया ने कहा, भारत इतनी बड़ी आबादी और विविधता के बावजूद 156 करोड़ खुराक देने की उपलब्धि हासिल करने में कामयाब रहा। कोविड टीकाकरण अभियान के एक साल पूरा होने के अवसर पर आईसीएमआर और भारत बायोटेक द्वारा विकसित स्वदेशी टीके पर आधारित डाक टिकट जारी किया गया है, जोकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत के सपने को साकार करता है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने इस मौके पर सभी वैज्ञानिकों को बधाई भी दी।

Rashifal

%d bloggers like this: