टी20 के बाद वर्ष की आईसीसी वनडे पुरुष टीम में भी कोई भारतीय नहीं

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में खेले गए टी20 विश्व कप में लचर प्रदर्शन के कारण आईसीसी की वर्ष की टी20 पुरुष टीम में जगह नहीं मिलने के बाद अब भारत का कोई भी क्रिकेटर वर्ष की वनडे टीम में स्थान नहीं बना पाया जबकि आयरलैंड के दो खिलाड़ियों को इसमें जगह मिली है।           दिलचस्प बात यह है इस टीम में आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और वेस्टइंडीज का भी कोई खिलाड़ी शामिल नहीं है। पाकिस्तान के बाबर आजम को टीम का कप्तान बनाया गया है जिसमें फखर जमां के रूप में एक अन्य पाकिस्तानी शामिल है।

दक्षिण अफ्रीका के जानेमन मलान और रासी वान डर डुसेन, बांग्लादेश के शाकिब अल हसन, मुस्ताफिजुर रहमान और मुशफिकुर रहीम (विकेटकीपर), श्रीलंका के वानिंदु हसरंगा और दुशमंत चमीरा तथा आयरलैंड के पॉल स्टर्लिंग और सिमी सिंह को इस टीम में शामिल किया गया है।               भारत ने साल 2021 में केवल छह वनडे खेले और चार में जीत हासिल की। उसने इस बीच 50 ओवरों की दो श्रृंखलाएं खेली। उसने इंग्लैंड को स्वदेश में तीन मैचों की श्रृंखला में 2-। से हराया और फिर श्रीलंका दौरे में इसी अंतर से जीत दर्ज की थी। आईसीसी की वर्ष की टीम में एक भी भारतीय खिलाड़ी न होने का मतलब खराब प्रदर्शन के बजाय कम मैच खेलना है क्योंकि भारत ने 2021 में खेली गई दोनों श्रृंखलाएं जीती थी।

विराट कोहली, केएल राहुल और रोहित शर्मा जैसे बल्लेबाजों ने वर्ष 2021 में केवल तीन एकदिवसीय मैच खेले और यही स्थिति प्रमुख गेंदबाजों की भी रही जिन्होंने सभी छह मैच नहीं खेले। भुवनेश्वर कुमार पांच मैचों में खेले जिनमें उन्होंने नौ विकेट लिए।

वर्ष की टीम में जगह बनाने के लिए अंक हासिल करने होते हैं और उसके लिए प्रभावशाली प्रदर्शन करना होता है। उदाहरण के लिए आयरलैंड के स्टर्लिंग ने वर्ष 2021 में 14 मैचों में 79.66 की औसत से 705 रन बनाए थे और इसलिए उन्हें टीम में जगह मिली।

%d bloggers like this: