बीटिंग रिट्रीट समारोह में 1000 ड्रोन की रोशनी से जगमगाया आसमान

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

नई दिल्ली। ऐतिहासिक विजय चौक पर 29 जनवरी को बीटिंग रिट्रीट समारोह के दौरान आसमान में करीब 1,000 ड्रोन की रोशनी ने देश की आजादी के 75 साल को दर्शाती हुई शानदार तस्वीर उकेरी। ड्रोन शो से लेकर प्रोजेक्शन मैपिंग शो तक, इस साल के समारोह में पहली बार कई नई शुरुआत हुई। पिछले 70 से अधिक वर्षों में पहली बार महात्मा गांधी की पसंदीदा धुन अबाइड विद मी इस बार विजय चौक पर नहीं सुनाई दी, जहां महामारी के बीच मास्क लगाकर गणमान्य व्यक्ति और अन्य लोग एकत्र हुए। अबाइड विद मी की धुन के स्थान पर लोकप्रिय देशभक्ति गीत ऐ मेरे वतन के लोगों की धुन सुनाई दी, जिसे कवि प्रदीप ने 1962 के भारत-चीन युद्ध के दौरान भारतीय सैनिकों द्वारा किए गए सर्वाेच्च बलिदान की याद में लिखा था। वर्ष 1847 में स्कॉटलैंड के एंग्लिकन कवि हेनरी फ्रांसिस लिटे द्वारा लिखित स्तुति गीत एबाइड विद मी की धुन 1950 से बीटिंग रिट्रीट समारोह का हिस्सा थी। सरकार द्वारा इस धुन को इस आधार पर हटा दिया गया कि आजादी का अमृत महोत्सव समारोह में भारतीय धुन बजाना उचित होगा। विपक्षी दलों ने गांधीजी की पसंदीदा धुन को हटाने के फैसले की आलोचना की थी।

समारोह के दौरान पृष्ठभूमि में संगीत के साथ लगभग 10 मिनट तक आसमान स्वदेशी तकनीक के माध्यम से तैयार ड्रोन की रोशनी से जगमगा उठा। नॉर्थ ब्लॉक और साउथ ब्लॉक की दीवारों पर आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में एक प्रोजेक्शन मैपिंग शो ने समां बांध दिया। इस दौरान भारतीय थल सेना, नौसेना, वायु सेना और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के बैंड की धुनें गूंज रही थीं।

शुरुआती बैंड ने वीर सैनिक की धुन बजाई, उसके बाद पाइप्स एंड ड्रम बैंड, सीएपीएफ बैंड, एयर फोर्स बैंड, नेवल बैंड, आर्मी मिलिट्री बैंड और मास बैंड ने प्रस्तुतियां दीं। समारोह के प्रींसिपल कंडक्टर कमांडर विजय चार्ल्स डिक्रूज थे। आजादी का अमृत महोत्सव मनाने के लिए इस बार समारोह में नई धुनें जोड़ी गईं। इनमें केरल, हिंद की सेना और ऐ मेरे वतन के लोगों की धुनें थीं।

राष्ट्रपति और सशस्त्र बलों के सर्वाेच्च कमांडर रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, थल सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे, नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार और वायु सेना प्रमुख एयर मार्शल वी आर चौधरी और कई अन्य गणमान्य व्यक्ति समारोह में उपस्थित थे।

Rashifal

%d bloggers like this: