बीसीसीआई अध्यक्ष के तौर पर अपना काम करता हूं, अटकलबाजियों का जवाब देने की जरूरत नहीं : गांगुली

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

नई दिल्ली। सौरव गांगुली ने भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) के अध्यक्ष के तौर पर चुनौतीपूर्ण 26 महीनों के अंदर कई तरह की आलोचनाओं का सामना किया जिसमें उन्हें कोविड-19 के कारण पैदा हुई परेशानियों से तो रूबरू होना ही पड़ा लेकिन उन पर चयनकर्ताओं को प्रभावित करने और अपने कार्यकाल में महिला क्रिकेट के लिए ज्यादा कुछ नहीं करने के आरोप भी लगे। लेकिन पीटीआई को दिए विशेष साक्षात्कार में पूर्व भारतीय कप्तान ने खुद पर लगे आरोपों को ही खारिज नहीं किया बल्कि अपने आलोचकों को भी याद दिलाया कि बीसीसीआई अध्यक्ष बनने से पहले मशहूर क्रिकेटर थे और 424 अंतरराष्ट्रीय मैच खेल चुके थे जिसमें 113 टेस्ट शामिल थे। विराट कोहली के कप्तानी कार्यकाल को लेकर हुए ड्रामा से दूर रहते हुए गांगुली ने अन्य संवेदनशील मुद्दों पर पूछे सवालों के जवाब दिए जैसे हाल में रणजी ट्राफी की दो चरण में बहाली की घोषणा, भारत के नए टेस्ट कप्तान पर फैसले के इंतजार और महिला इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की शुरुआत।

उन्होंने यह भी खुलासा किया कि इस महीने कोलकाता में भारत और वेस्टइंडीज के बीच टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच दर्शकों के बिना कराए जाएंगे और जब उनसे बोर्ड सचिव जय शाह से संभावित मतभेद की अटकलबाजी के बारे में पूछा गया तो वह हंस पड़े।

Rashifal

%d bloggers like this: