लोगों को हमेशा मास्क लगाना पड़ेगा, ऐसी संभावना नहीं: फाउची

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चेताया कि कोविड महामारी जल्द खत्म नहीं होने जा रही और ओमीक्रोन कोरोना वायरस का आखिरी स्वरूप नहीं होगा। उन्होंने कहा कि बहुत कुछ इस घातक वायरस के अगले स्वरूप के प्रभाव और उसकी संक्रामकता पर निर्भर करेगा। विश्व आर्थिक मंच (डब्ल्यूईएफ) के सप्ताह भर चलने वाले ऑनलाइन दावोस एजेंडा सम्मेलन के पहले दिन कोविड-19 के हालात पर अपने संबोधन में मशहूर अमेरिकी महामारी विज्ञानी एंथोनी फाउची ने कहा कि नए सामान्य को लेकर पूर्वानुमान लगाना मुश्किल होगा, हालांकि, उन्हें नहीं लगता कि लोगों को हमेशा मास्क पहनना पड़ेगा। फाउची ने कहा, ओमीक्रोन बेहद तेजी से फैलता है लेकिन ये बहुत ज्यादा रोगजनक नहीं है। जबकि, मुझे उम्मीद है कि अभी हालात ऐसे ही रहेंगे, हालांकि, बहुत कुछ आने वाले समय में उभरने वाले वायरस के नए स्वरूपों पर निर्भर करेगा। उन्होंने कहा कि महामारी को लेकर कई तरह की भ्रामक सूचनाएं हैं लेकिन यह कहना मुश्किल है कि महामारी कब तक जारी रहेगी? फाउची ने कहा, यह अंदाजा लगाना काफी मुश्किल है कि नया सामान्य कैसा होगा? मुझे नहीं लगता कि लोगों को हमेशा मास्क पहनना पड़ेगा। हालांकि, मैं उम्मीद करूंगा कि नया सामान्य एक-दूसरे के साथ और अधिक एकजुटता से होगा। मैं यह भी उम्मीद करता हूं कि हालात सामान्य होने पर यह भी हमारी यादों में रहेगा कि एक महामारी हम पर क्या प्रभाव डाल सकती है।

%d bloggers like this: