वैश्विक स्वर्ण मांग 2021 में दस फीसदी की वृद्धि के साथ 4,021 टन हुई

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

मुंबई। विश्व स्वर्ण परिषद (डब्ल्यूसीजी) की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि दिसंबर में खत्म हुई तिमाही के दौरान पिछले साल की इस अवधि के मुकाबले सोने की वैश्विक मांग में 50 फीसदी की भारी बढ़ोतरी के कारण 2021 में यह 10 फीसदी बढ़कर 4,021.3 टन हो गई। सोने की मांग के रुझान 2021 रिपोर्ट के मुताबिक 2020 में सोने की कुल मांग कोविड महामारी और उसके कारण पैदा हुए अवरोधों के कारण 3,658.8 टन थी।

डब्ल्यूसीजी में क्षेत्रीय मुख्य कार्यपालक अधिकारी, सोमसुंदरम पीआर ने कहा, इस कीमती धातु की मांग में वृद्धि का मुख्य कारण केंद्रीय बैंकों द्वारा 2021 की चौथी तिमाही में खरीद और मुख्यत: भारत तथा चीन में आभूषण खरीद में सुधार है। अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में सोने की मांग बढ़कर।,146.8 टन हो गई जो 2019 की दूसरी तिमाही के बाद से किसी तिमाही में सर्वाधिक है और यह पिछले वित्त वर्ष की इसी अवधि की मांग के मुकाबले 50 फीसदी अधिक है। 2020 की चौथी तिमाही में मांग 768.3 टन थी। 2021 की अंतिम तिमाही में सोने की ईंटों और सिक्के की मांग 1,180 टन रही जो बीते आठ वर्ष में सर्वाधिक रही। रिपोर्ट में कहा गया कि लगातार 12वें वर्ष भी सोने के शुद्ध लिवाल केंद्रीय बैंक रहे जिन्होंने 463 टन सोना खरीदा जो 2020 के मुकाबले 82 फीसदी अधिक है।

%d bloggers like this: