सांप्रदायिक आधार पर लोगों को बांटने की कोशिश कर रहे कट्टरपंथी तत्व: अब्दुल्ला

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

श्रीनगर। नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने 13 फरवरी को कहा कि कुछ कट्टरपंथी तत्व हिजाब विवाद के बीच देश के लोगों को सांप्रदायिक आधार पर विभाजित करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपनी इच्छानुसार पहनने का अधिकार है और वह अपनी धार्मिक मान्यताओं का पालन करने के लिए स्वतंत्र है। उन्होंने परिसीमन आयोग पर भी निशाना साधा और कहा कि यह पूरी तरह से गलत है। अब्दुल्ला ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में संवाददाताओं से कहा, देश पर सभी का बराबर अधिकार है। जब तक आप राष्ट्र की अखंडता को खतरे में नहीं डालते, तब तक आपको कुछ भी खाने, कुछ भी पहनने का अधिकार है। हर किसी का अपना धर्म होता है।

Rashifal

%d bloggers like this: