Sunday, September 19, 2021
Spread the knowledge and Information

HomeFacts and Educationसाल 2025 तक शुरू कर सकती है जापान एयरलाइंस अपनी फ्लाइंग कार...

साल 2025 तक शुरू कर सकती है जापान एयरलाइंस अपनी फ्लाइंग कार सर्विस!

Spread the knowledge and Information

 

जापान में आने वाले कुछ समय के बाद फ्लाइंग कार बाजार में देखी जा सकती है। इस महत्वाकांक्षी लक्ष्य पर कई देशों की नजर है जो उड़ने वाली कार ईजाद करने की होड़ में हैं। अब जापान एयरलाइंस अपने ऑपरेशन्स में हवाई जहाज के साथ ही हवाई कार भी जोड़ने की तैयारी में लगी हुई है। निकट भविष्य में जापान उन चुनिंदा देशों में शामिल हो सकता है जिनके पास अपनी स्वयं की फ्लाइंग कार टेक्नोलॉजी होगी। कंपनी ने इसके लिए 2025 का लक्ष्य रखा है। वित्तीय वर्ष 2025 में कंपनी अपनी फ्लाइंग कार सर्विस शुरू करने की योजना पर काम कर रही है।

NikkeiAsia की एक रिपोर्ट के अनुसार जापान एयरलाइंस एक यात्री परिवहन सेवा शुरू करेगी जो यात्रियों को हवाई अड्डों और Mie Prefecture तथा अन्य क्षेत्रों में दूसरे पर्यटक आकर्षणों से जोड़ने का काम करेगी। Gizmochina के हवाले से  आई इस रिपोर्ट के अनुसार जापान एयरलाइंस (JAL) का उद्देश्य इस सेवा को टैक्सी सर्विस की तरह विकसित करने का है जो कि एयरपोर्ट से यात्रियों को देश के विभिन्न स्थानों पर हवाई यात्रा करते हुए ले जाएगी। इसमें कोई दो राय नहीं है कि विश्व के कई अन्य देश इस तरह की कार को विकसित करने पर काम कर रहे हैं। ऑटोमोबाइल उद्योग के बीच फ्लाइंग कार व्यवसाय में एक बड़ी प्रतिस्पर्धा निकट भविष्य में देखने को मिल सकती है।

इस सेवा को शुरू करने के लिए जापान एयरलाइंस को जापान में आवश्यक सुरक्षा नियमों को पूरा करने की भी आवश्यकता होगी। रिपोर्ट में कहा गया है कि कंपनी वोलोकॉप्टर (Volocopter), जो एक जर्मन स्टार्टअप है, द्वारा निर्मित विमान का उपयोग करेगी, जिसमें उसने 2020 में वापस निवेश किया था। यह वाहन एक दो सीटर ड्रोन प्रकार का एयरक्राफ्ट है जिसे ईवीटीओएल (eVTOL (इलेक्ट्रिक वर्टिकल टेकऑफ़ और लैंडिंग एयरक्राफ्ट) कहा जाता है। यह 35 किलोमीटर की क्रूजिंग रेंज प्रदान करता है और 110 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से भी उड़ान भर सकता है।

फिलहाल जापान एयरलाइंस ने इस सेवा के व्यावसायीकरण के लिए परीक्षण शुरू करने के लिए Mie Prefecture के साथ एक सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। किए गए परीक्षणों में लगभग 20 किलोमीटर की छोटी दूरी की उड़ानें शामिल हैं। उसके बाद यह मध्यम से लंबी दूरी की यात्रा की ओर बढ़ेगी जो कि 50 से 150 किलोमीटर के बीच है। यह सेवा वित्तीय वर्ष 2025 में कमर्शियल ऑपरेशन्स शुरू करने के लिए तैयार है और शुरुआत में प्रीफेक्चर के मुख्य हवाई अड्डे से पर्यटन स्थलों को जोड़ने की उम्मीद है।

Source Link


Spread the knowledge and Information
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments


Spread the knowledge and Information