स्वचालित परीक्षण केंद्रों के जरिये वाहनों की फिटनेस जांच 2023 से अनिवार्य बनाना चाहती है सरकार

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

नई दिल्ली। सरकार की अगले वर्ष अप्रैल माह से स्वचालित परीक्षण स्टेशन के जरिए वाहनों की फिटनेस जांच को चरणबद्ध तरीके से अनिवार्य बनाने की योजना है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने 04 फरवरी को कहा कि स्वचालित परीक्षण स्टेशन (एटीएस) के जरिए वाहनों की अनिवार्य फिटेनस जांच को लेकर जनता की राय जानने के लिए मसौदा अधिसूचना जारी की गई है। एटीएस में वाहन की फिटनेस के परीक्षण के लिए आवश्यक विभिन्न जांच मैकेनिकल उपकरण की मदद से स्वचालित तरीके से हो जाती है। मसौदा अधिसूचना के मुताबिक इसे चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा। भारी मालवाहक वाहनों और भारी यात्री मोटर वाहनों के लिए एटीएस के जरिए फिटनेस जांच एक अप्रैल 2023 से अनिवार्य हो जाएगी। मध्यम आकार वाले मालवाहक वाहन और यात्री वाहनों तथा हल्के मोटर वाहन (परिवहन) के लिए यह जांच एक जून 2024 से अनिवार्य होगी।

%d bloggers like this: