राजनीतिक वजहों से नेताजी की विरासत का आंशिक दोहन किया गया: अनीता बोस-फाफ

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin
Share on whatsapp
Share on reddit
Share on pinterest

नेताजी सुभाष चंद्र बोस

कोलकाता। गणतंत्र दिवस परेड के लिए नेताजी सुभाष चंद्र बोस और उनकी इंडियन नेशनल आर्मी पर आधारित पश्चिम बंगाल की झांकी को मंजूरी नहीं मिलने पर पैदा हुए विवाद के बीच, उनकी बेटी अनीता बोस-फाफ ने 17 जनवरी को कहा कि महान स्वतंत्रता सेनानी की विरासत का राजनीतिक वजहों के लिए अक्सर आंशिक रूप से दोहन किया गया है। उन्होंने कहा कि कोलकाता में 2021 में नेताजी की 125वीं जयंती वर्ष समारोह की शुरुआत कहीं न कहीं पश्चिम बंगाल के चुनावों से जुड़ी हुई थी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा और झांकी को मंजूरी नहीं मिलने पर अफसोस जताया। झांकी में बंगाल के अन्य नायक भी शामिल थे, जिनमें रवींद्रनाथ टैगोर, ईश्वरचंद्र विद्यासागर, स्वामी विवेकानंद, श्री अरबिंदो शामिल हैं।

%d bloggers like this: